Cryptocurrency

Bitcoin क्या है | Bitcoin कैसे बनाया जाता है | Bitcoin in Hindi

Bitcoin क्या है Bitcoin कैसे बनाया जाता है Bitcoin in Hindi

Bitcoin Kya Hai | बिटकॉइन क्या है Bitcoin Meaning in Hindi


बिटकॉइन क्या है : बिटकॉइन कैसे काम करता है, Bitcoin Kya Hai , Bitcoin Meaning in Hindi इसको कहाँ रखा जाता है, बिटकॉइन का इस्तेमाल कैसे करते है. ये सब ले कर आपके मन में बहुत से सवाल उठते होंगे. दोस्तों आज हम आपको इस पोस्ट के माध्यम से Bitcoin के संबंध में समूर्ण जानकारियाँ देने वाले है. जिससे आप बिटकॉइन (Bitcoin) के बारें में सारे बातें जान पाये बिटकॉइन के बारे जानने के लिए निचे दिए गए पोस्ट को पढ़े

बिटकॉइन क्या है: बिटकॉइन एक Digital currency है. जिसे सीधा व साफ़ शब्दो में कहा जाए तो यहाँ एक डिजिटल मुद्रा है. जिसे हम केवल कंप्यूटर वॉलेट या मोबाइल वॉलेट के जरिये खरीद कर रख सकते है. व जरुरत आने पर हम इसका उपयोग शॉपिंग व इन्वेस्टमेंट के लिए भी कर सकते है. बिटकॉइन जनवरी 2009 में बनाई गई एक डिजिटल मुद्रा (Digital Currency) यह एक ऐसी डिजिटल पैसा है. जिसे कोई नहीं देख सकता यह virtual फॉर्म में पाई जाती है। इसे Electronic Form में सेव करते हैं. वर्तमान समय में इसका प्रचलन काफी बढ़ रहा है. अभी 2021 में बिटकॉइन में काफी उछाल देखने को मिला है. आप इसे किसी अन्य currency की तरह खरीद सकते हैं. जैसे डॉलर, रुपया ,क्रोना, दिनार आदि। बिटकॉइन cryptocurrency है इसमें निवेश करने से पहले आपको इसके बारे में सारी जानकारी होनी चाहिए। आज हम इस ब्लॉग से जानेंगे कि Bitcoin Kya Hai , (बिटकॉइन क्या है), Bitcoin Kaise banta Hai (बिटकॉइन कैसे बनता है) cryptocurrency kya hai (क्रिप्टोकोर्रेंसी क्या है) आदि के बारे में आज हम सम्पूर्ण बातें जानने वाले है.


Bitcoin Kaise Banta hai | बिटकॉइन को कैसे बनाया जाता है


Bitcoin Kaise Banta hai  बिटकॉइन को कैसे बनाया जाता है

Bitcoin Kaise Banta hai जैसा की पहले आप सब ने यहाँ तो जाना लिया की बिटकॉइन (Bitcoin) यहाँ एक डिजिटल मुद्रा या पैसा है. इसका वास्तव में कोई अस्तित्व या मौजूदगी नहीं होता है. लेकिन बिटकॉइन को बनाना इतना आसान भी नहीं होता है. इसमें काफी मेहनत लगती हैं. Bitcoin ko Banane के लिए miner 24 घंटे अपने बड़े Mining Computer को on रखा जाता है. जिससे Crypto Transactions में होने वाले क्रिप्टोग्राफ़िक प्रोब्लेम्स को साॅलव करते है. Alogoritham को solve किया जाता है. जिससे इनाम स्वरुप माइनिंग करने वाले को थोड़ा Bitcoin मिल जाता है. Computer Mining से आया Bitcoin एल्क्ट्रोनिक करेंसी (Electronic Currency) होने के कारण इसकी वैल्यू बढ़ जाती हैं. और अधिक मूल्यवान हो जाता है. Miner मैथामेटिकल और क्रिप्टोग्राफ़िक प्रोब्लेम्स को साॅलव करते है इस प्रॉब्लम को सॉल्व करने पर miner को बिटकॉइन ब्लाक के रूप में रिकॉर्ड करते हैं। माइनिंग की प्रक्रिया काफी लंबी चलती है. ये लिमिटेड संख्या में बनाए जाते है इसलिए इसकी कारण से इसकी मांग बढ़ रही हैं.Bitcoin एक decentralized currency है, जिसका मतलब ये है की इसे control करने के लिए कोई भी bank या authority या सरकार नहीं है यानि की कोई इसका मालिक नहीं है.


Bitcoin ka istemaal kyon karte hai | बिटकॉइन का इस्तेमाल क्यों किया जाता है


Bitcoin ka istemaal kyon karte hai | बिटकॉइन का इस्तेमाल क्यों किया जाता है
Bitcoin ka istemaal kyon karte hai | बिटकॉइन का इस्तेमाल क्यों किया जाता है

बिटकॉइन का ज्यादातर इस्तेमाल अलग-अलग online transaction में किया जाता है ये P2P (Peer to Peer) Network अर्थात एक ही नेटवर्क पर जुडी हुई कंप्यूटर पद्धति पर काम करता हैं. बिना किसी बैंक की सहायता से आजकल ऑनलाइन Developers , NGOs इसका इस्तेमाल online transaction के लिए पुरे दुनिया भर में किया जाता है. इसलिए इसका प्रचलन बढ़ रहा हैं. जैसे हम ऑनलाइन पेमेंट करके बैंक में transaction करते हैं. हम पता लगा सकते है. किसे पेमेंट किया गया है. कितना पेमेंट किया गया और इसमें बैंक का पूरा एक्सेस रेहता है. लेकिन बिटकॉइन का कोई मालिक नहीं होता है. बिटकॉइन का रिकॉर्ड पब्लिक ledger में होता है. जिसे बिटकॉइन block chain के नाम से जाना जाता हैं।

जहाँ Bitcoin Digital Currency के के साथ किये गए सभी प्रकार के transactions details store हो कर रहते हैं. और वही Blockchain इसका प्रमाण होता है की transaction हुआ है या नहीं.


Cryptocurrency kya hai |क्रिप्टोकररेंसी क्या है |


क्रिप्टोकरेंसी की आजकल मार्केट में खूब चर्चा हो रही है. बिटक्वॉइन (Bitcoin) , Ethereum आदि Digital Coin को क्रिप्टोकरेंसी कहा जाता है. यहाँ एक प्रकार का डिजिटल पैसा है. जिसका असल जीवन में कोई अस्तित्व नहीं है. आज के इस आर्टिकल में हम आपको इसी क्रिप्टोकरेंसी (Cryptocurrency) के बारे में विस्तार पूर्वक संछेप से बताएंगे. इसके हर पहलू से आपको रूबरू कराएंगे, साथ ही बताएंगे कि इसका भारत में चलन है या नहीं, इसका भविष्य में इस्तेमाल कैसे होगा ? क्रिप्टोकरेंसी की पूरी एबीसीडी के बारे में हम आपको बताएँगे पूरी जानकारी के साथ

Cryptocurrency यानी असल जीवन में इसका कोई अस्तित्व नहीं हैं ,यह एक कंप्यूटर निर्मित algorithm  पर एक ऐसे Digital Currency है. जो सामन्य तौर पर हमरे पास मौजूद नहीं होतो है. ये सिर्फ इंटरनेट पर मौजूद है, यह स्वतंत्र मुद्रा है. जिसे कोई अथॉरिटी कन्ट्रोल नहीं कर सकती हैं. इस पर नोटबंदी का भी कोई असर नहीं होता हैं. क्रिप्टोकररेंसी का उपयोग कोई भी व्यक्ति स्वतंत्र रूप से कही भी कर सकता है. दुनिया में कई विभिन प्रकार के क्रिप्टो करेंसी मौजूद हैं. जैसे – बिटकॉइन, रेड कॉइन, सिया कॉइन, इथीरियम, Ripple (XRP) और मोनरो , dogecoin आदि हैं.


bitcoin wallet kya hota hai | बिटकॉइन वॉलेट क्या है


Bitcoin को हम सिर्फ हम कंप्यूटर व मोबाइल के जरिये एकत्र (ईकठा) करके रख सकते हैं. और इसे रखने के लिए bitcoin wallet की जरुरत होती है. Bitcoin wallets बहुत से प्रकार के होते हैं जैसे desktop wallet, (कंप्यूटर वॉलेट ) Appliction wallet, online/ website wallet, hardware wallet इन में से एक wallet का इस्तेमाल कर हमें इसमें account बनाना होता है.

जिसे ये wallet हमें address के रूप में एक unique id (पहचान ) प्रदान करती है. जैसे की मान लीजिये आप ने कहीं से bitcoin कमाया है. और उसको आपको अपने account में store करना है. तो आपको वहां पर उस transction के दौरान आपको Bitcoin Wallet ID की जरुरत पड़ेगी और उसी के मदद से आप bitcoin को अपने wallet में रख ले पाएंगे.

उसके अलावा अगर आपको bitcoin खरीदना है या बेचना है तो आपको bitcoin wallet की जरुरत पड़ती है. और इसके बाद आप जो bitcoin बेचते हैं उसके बदले आपको जितने भी पैसे मिलते हैं वो आप अपने bank में ट्रांसफर बिटकॉइन वॉलेट के जरिये करवा सकते है.

Leave a Comment